तिलचट्टा ज़मीन पर कैसे गति करता है और वायु में उड़ता है ?

QuestionsCategory: Questionsतिलचट्टा ज़मीन पर कैसे गति करता है और वायु में उड़ता है ?
Questins Staff asked 2 months ago

तिलचट्टा ज़मीन पर कैसे गति करता है और वायु में उड़ता है ?तिलचट्टा के शरीर में वायु कहां से प्रवेश करती है तिलचट्टे के शरीर में वायु कैसे प्रवेश करती है तिलचट्टा के शरीर में वायु प्रवेश करती है तिलचट्टा में कितने जोड़े श्वास रंध्र पाए जाते हैं तिलचट्टा का श्वसन अंग क्या है तिलचट्टे में कौन सा कंकाल होता है तिलचट्टा कैसे गति करता है ?

1 Answers
Rohit Verma Staff answered 2 years ago

तिलचट्टे की गति-तिलचट्टा ज़मीन पर चलता है, दीवार पर चढ़ता है और वायु में उड़ता भी है। इनमें तीन जोड़ी पैर होते हैं। यह चलने में सहायता करते हैं। इसका शरीर कठोर | बाय-कंकाल द्वारा ढका होता है। यह बाय चित्र-तिलचट्टा कंकाल विभिन्न एककों की परस्पर संधियों द्वारा बनता है जिसके कारण गति संभव हो पाती है।
वक्ष से दो जोड़े पर भी जुड़े होते हैं। अग्र-पर संकरे एवं पिछले-पर चौड़े एवं बहुत पतले | होते हैं। तिलचट्टा में विशिष्ट पेशियाँ होती हैं। पैर की पेशियाँ उन्हें चलने में सहायता करती
हैं। वक्ष की पेशियाँ तिलचट्टे के उड़ने के समय उसके परों को गति देती हैं।

error: Content is protected !!