उत्सर्जन से क्या अभिप्राय है?

QuestionsCategory: Questionsउत्सर्जन से क्या अभिप्राय है?
Questins Staff asked 2 months ago

उत्सर्जन से क्या अभिप्राय है?

उत्सर्जन से क्या अभिप्राय है? उत्सर्जन में सहायता करने वाले अंगों के नाम लिखें तथा संक्षेप में उनके कार्य लिखें। उत्सर्जन क्या है पौधों में उत्सर्जन कैसे होता है मनुष्य में उत्सर्जन तंत्र उत्सर्जन तंत्र pdf उत्सर्जन तंत्र के कार्य का वर्णन उत्सर्जी पदार्थ क्या है

1 Answers
Sunil Kumar Staff answered 2 months ago

उपापचयी क्रियाओं के दौरान उत्पन्न अनावश्यक तथा हानिकारक पदार्थों को अपशिष्ट पदार्थ कहते हैं तथा अपशिष्ट पदार्थों को शरीर से बाहर निकाल देना उत्सर्जन कहलाता है।
उत्सर्जन में सहायता करने वाले अंग-(1) त्वचा, (2) आंत, (3) वृक्क, (4) फेफड़े, (5) यकृत।
1. त्वचा के उत्सर्जी कार्य-इसमें स्वेद ग्रंथियाँ होती हैं जो पसीने के रूप में यूरिया, यूरिक अम्ल तथा अतिरिक्त पानी को बाहर निकालती हैं।
2. आंत के उत्सर्जी कार्य-यह अनपचे भोजन तथा कुछ लवणों को मल के रूप में बाहर निकालती है।
3. वृक्क के उत्सर्जी कार्य- (1) वृक्क रक्त की मलिनताओं को दूर करके रक्त के शुद्धिकरण का कार्य करते हैं।
(2) यह रक्त से यूरिया, यूरिक अम्ल, नाइट्रोजनी, अपशिष्ट, सोडियम व पोटैशियम क्लोराइड, फास्फेट तथा सल्फेटों को मूत्र के साथ बाहर निकाल देते हैं।
4. फेफड़ों के उत्सर्जी कार्य- फेफड़े श्वसन क्रिया के दौरान हानिकारक कार्बन डाइऑक्साइड गैस तथा जलवाष्पों को श्वसन मार्ग द्वारा बाहर निकाल देते हैं।
5. यकृत के उत्सर्जी कार्य- यकृत प्रोटीन के उपापचय से बने विषैले अमोनिया के लवणों को कम हानिकारक यूरिया तथा यूरिक अम्लों में बदल देता है।

Your Answer

error: Content is protected !!