Jawahar Navodaya Vidyalaya Sample Paper 2020 in Hindi

Jawahar Navodaya Vidyalaya Sample Paper 2020 In Hindi

जवाहर नवोदय विद्यालय सैंपल पेपर 2020 – जो उम्मीदवार JNV Entrance Class 6th,9th परीक्षा की तैयारी कर रहे है ,उन्हें अपनी तैयारी प्रैक्टिस सेट मॉक टेस्ट ऑनलाइन टेस्ट इत्यादि से करनी चाहिए .इससे तैयारी अच्छे से हो जाती है. इस पोस्ट में आपको Navodaya Question Paper 2019 Pdf Navodaya Previous Question Papers Pdf जवाहर नवोदय विद्यालय एंट्रेंस एग्जाम मॉडल पेपर से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर एक ऑनलाइन टेस्ट के रूप में दिए गए .यह प्रश्न हर बार Jawahar Navodaya Vidyalaya की परीक्षाओं में पूछे जाते है . नीचे दिए गए ऑप्शन में से एक आंसर को चुने तो आपको यहा सही आंसर दिखा दिया जाएगा.

1. श्रेणी 4, 7, 11, 18, 29, ….. का अगला पद है?

• 47
• 45
• 40
• 36

47

2. जब व्यंजक (35.624 – 26.510) को 14 से भाग दिया जाए, तो भागफल है –

• 6.51
• 0.651
• 0.0651
• 65.1

0.651

3. पहली दस विषम संख्याओं का योगफल है?

• 10
• 50
• 75
• 100

100

4. तीन घण्टियाँ क्रमश: 12 मिनट, 15 मिनट तथा 18 मिनट के अन्तराल में बजती हैं। वे एक साथ प्रात: 10.30 पर बजीं। वे फिर एक साथ कब बजेंगी।

• 12:00 दोपहर
• 1:00 अपराह्न
• 1:30 अपराह्न
• 3:00 अपराह्न

1:30 अपराह्न

5. यदि एक आयताकार खेत, जिसकी विमाएँ 64 मी. X 36 मी. हैं, का क्षेत्रफल एक वर्गाकार खेत के क्षेत्रफल के बराबर है, तो वर्गाकार खेत की भुजा (मी. में) है?

• 64
• 48
• 36
• 24

48

6. दो संख्याओं का योग 125600 है। यदि एक संख्या दूसरी संख्या से 14400 कम है, तो छोटी संख्या का मान है?

• 70000
• 84400
• 55600
• 62800

55600

7. विभिन्न प्रकार के कपड़े निम्न दर पर उपलब्ध हैं: I. 23 मीटर 460 रुपए का II. 38 मीटर 912 रुपए का III. 15 मीटर 375 रुपए का IV. 18 मीटर 396 रुपए का उपर्युक्त में सबसे सस्ता कपड़ा है

• I
• II
• III
• IV

I

8. 320 के 68% का मान है

• 2176
• 217.6
• 21.76
• 21760

217.6

9. दूध के एक डिब्बे में 48 लीटर दूध डालने से पूरा भर जाता है। इसका 7/12 भाग भरा हुआ है। यदि उसमें से आधा दूध निकाल लिया जाये, तो इसमें कितना दूध और डाला जा सकता है ताक यह पूर्ण रूप से भर जाये?

• 14 लीटर
• 28 लीटर
• 34 लीटर
• 40 लीटर

34 लीटर

10. 360, 108 तथा 252 का म.स. है?

• 36
• 54
• 72
• 116

36

11. पंकज ने चारु से 15 अंक कम प्राप्त किए तथा चारु ने कान्ता से 5 अंक अधिक प्राप्त किए। यदि इन तीनों ने कुल 112 अंक प्राप्त किए हैं, तो कान्ता ने जो अंक प्राप्त किए, वह है।

• 29
• 39
• 44
• 45

39

12. 5 अंकों वाली बड़ी-से-बड़ी तथा छोटी-से-छोटी संख्याओं का अन्तर है?

• 1
• 900
• 9000
• 89999

89999

13. निम्न संख्याओं में अभाज्य संख्याओं का योग क्या होगा? 17, 8, 21, 13, 41, 2, 27, 31, 51

• 104
• 102
• 155
• 125

104

14. दी गई भिन्नात्मक संख्या के अंश तथा हर में एक ही धनपूर्ण संख्या जोड़ दी जाए, तो

• नई भिन्नात्मक संख्या में कोई अन्तर नहीं आता
• नई भिन्नात्मक संख्या पहली भिन्नात्मक संख्या से बड़ी होगी
• नई भिन्नात्मक संख्या पहली भिन्नात्मक संख्या से छोटी होगी
• नई भिन्नात्मक संख्या पहली भिन्नात्मक संख्या से छोटी हो सकती है अथवा बड़ी भी

नई भिन्नात्मक संख्या पहली भिन्नात्मक संख्या से बड़ी होगी

15. एक ठेकेदार को किसी काम को 20 दिन में समाप्त करना है जिसके लिए उसने 30 व्यक्ति काम पर लगाये। यदि काम को 15 दिन में समाप्त करना है, तो उसे कितने और व्यक्ति काम पर लगाने होंगे?

• 50
• 40
• 30
• 10

10

16. 150 X 0 X 5 X 4 + 700 का मान है?

• 0
• 3700
• 2300
• 700

700

17. ₹ 15,000 को 8 वर्ष के लिए साधारण ब्याज पर लगाने पर ₹ 25,800 रुपए हो गए। वार्षिक ब्याज दर होगी।

• 5 ½%
• 9%
• 10%
• 11%

9%

18. यदि एक कार बिन्दु A से बिन्दु B के लिए, जो 210 किमी. की दूरी पर है, 60 किमी./घं. की गति से प्रात: 9:30 बजे चलती है, तो वह अपने गन्तव्य B पर कब पहुँचेगी?

• 12.00 दोपहर
• 12.30 दोपहर बाद
• 1.00 दोपहर बाद
• 1.30 दोपहर बाद

1.00 दोपहर बाद

19. उस कमीज का क्रय मूल्य क्या होगा जिसको 25% लाभ पर बेचने से ₹ 2500 प्राप्त होते हैं?

• ₹ 1,250
• ₹ 1,750
• ₹ 2,000
• ₹ 2,425

₹ 2,000

20. अंकों 6, 4, 2, 1 तथा 0 को केवल एक बार प्रयोग करके 5 अंकों की सबसे छोटी संख्या बनेगी?

• 12460
• 01246
• 61024
• 10246

10246

21. 7 + 4/10 + 9/100 + 8/100 का समतुल्य दशमलव है?

• 7.21
• 7.498
• 2.8
• 0.7498

7.498

22. एक हार का भार 25 ग्रा. 35 मिली ग्रा.. एक चडी का भार 15 ग्रा. 5 मिली ग्रा. तथा एक अंगूठी का भार 10 ग्रा. 450 मिली ग्रा. है। गहनों का कुल भार है?

• 40.300 ग्रा.
• 50.49 ग्रा.
• 50.85 ग्रा.
• 45.130 ग्रा.

50.49 ग्रा.

अनुच्छेद-1
“आरोग्य रक्षा के नियम माँ-बाप को न मालूम रहने के कारण उनके बाल-बच्चों को भोग भुगतने पड़ते हैं। उनकी जो दुर्गति होती है, उन पर जो आफतें आती हैं उनका ठौर-ठिकाना नहीं। हजारों बच्चे तो माँ-बाप की असावधानी और मूर्खता के कारण पैदा होते ही मर जाते हैं। जो बचते हैं उनमें लाखों अशक्त, निर्बल और जन्म-रोगी होते हैं और करोड़ों ऐसे नीरोग और सबल नहीं होते जैसे होने चाहिए। अब इन सबको आप जोड़ डालिए तो आपको मालूम हो जाएगा कि माँ-बाप की नादानी के कारण सन्तति को कितनी हानि उठानी पड़ती है; कितना दु:ख सहना पड़ता है।”
हिन्दी निबंध साहित्य के प्रवर्तक एवं सरस्वती पत्रिका के सम्पादक आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी का शिक्षापरक लेख।
23. आचार्य पं. महावीर प्रसाद द्विवेदी निम्नलिखित में से किस किन पत्रिका/पत्रिकाओं के सम्पादक थे?

• साहित्य संदेश
• सरस्वती
• विशाल भारत
• उपर्युक्त दोनों

सरस्वती

24. हिन्दी के निबन्ध साहित्य के विकास में आचार्य द्विवेदी का स्थान :

• शीर्षस्थ था
• समालोचक जैसा था
• प्रवर्तक जैसा था
• उन्नायक जैसा था

प्रवर्तक जैसा था

25. आचार्य पं. महावीर प्रसाद द्विवेदी अपने समय के :

• श्रेष्ठ विद्वान् थे
• शीर्षस्थ समालोचक थे
• हिन्दी भाषा के प्रबल पक्षधर और आचार्य थे
• श्रेष्ठ आयुर्वेदाचार्य थे

हिन्दी भाषा के प्रबल पक्षधर और आचार्य थे

26. सन्तति का अर्थ होता है :

• पत्नी तथा पुत्र
• सम्बन्धी लोग
• आत्मीय जन
• औलाद (बाल बच्चे)

औलाद (बाल बच्चे)

27. इस गद्य खण्ड का उपयुक्त शीर्षक हो सकता है:

• स्वास्थ्य रक्षा
• माता-पिता और उनके बच्चों का स्वास्थ्य
• नीरोग रहने के उपाय
• स्वस्थ कैसे रहें

माता-पिता और उनके बच्चों का स्वास्थ्य

अनुच्छेद-2
“अन्तिम क्षण थे, सर्वदा के लिए वियोग हो रहा था। देखती आँखों शाहजहाँ का सर्वस्व लुट रहा था और वह भारत सम्राट हताश हाथ-पर-हाथ धरे बेबस बैठा था और अपनी किस्मत को रो रहा था। सिंहासनारूढ़ हुए कोई तीन वर्ष भी नहीं बीते थे कि उसकी प्रियतमा इस लोग से विदा लेने की तैयारी कर रही थी। शाहजहाँ की सभी आशाओं पर, उसकी सारी उमंगों पर पाला पड़ रहा था।…”
“हाय अन्त हो गया, सर्वस्व लुट गया! प्रेमी, जीवन-यात्रा का एकमात्र साथी सर्वदा के लिए छोडकर चल बसा। भारत सम्राट शाहजहाँ की प्रेयसी, साम्राज्ञी मुमताज महल सदा के लिए इस लोक से विदा हो गई। शाहजहाँ भारत का सम्राट था, जहान का शाह था, किन्तु वह भी अपनी प्रेयसी को जाने से रोक न सका।” -ताज, महाराज कुमार रघुबीर संह
28. इस गद्यांश में अभिव्यक्ति के लिए प्रयुक्त शैली को हम क्या कहेंगे?

• विचार प्रधान शैली
• व्यास शैली
• भाव प्रवण शैली
• कल्पना प्रधान शैली

भाव प्रवण शैली

29. उक्त गद्यांश में लेखक को शाहजहाँ की मनःस्थिति को चित्रित करने में :

• बहुत कम सफलता मिली है
• अत्यधिक सफलता मिली है
• किंचित् सफलता मिली है
• प्रशंसनीय सफलता मिली है

प्रशंसनीय सफलता मिली है

30. इस गद्यांश में व्यक्त विचार यह दर्शाते हैं कि कोई व्यक्ति कितना ही साधन-सम्पन्न, सक्षम तथा सबल क्यों न हो, किन्तु वह महाबली काल के समक्ष :

• एक भुनगा-सा होता है
• अति तुच्छ होता है
• किंकर्तव्यविमूढ़ हो जाता है
• चुप हो जाता है

किंकर्तव्यविमूढ़ हो जाता है

31. उक्त गद्यांश का सर्वाधिक उपयुक्त शीर्षक हो सकता है :

• महाबली काल
• मुमताज की मृत्यु
• शाहजहाँ की बेबसी
• प्रेयसी वियोग

शाहजहाँ की बेबसी

32. वियोग से तात्पर्य है :

• वैमनस्य
• विलाप
• मेल-मिलाप
• बिछुड़ना

बिछुड़ना

अनुच्छेद-3
अकेला अध्यापक बालक के संपूर्ण विकास के लिए सबकुछ नहीं कर सकता। उसको सफलता तब मिल सकती है जब समाज उसकी सहायता करे। जिस प्रदेश में कलह मचा रहता हो, जिस समाज में गरीब-अमीर, ऊँच-नीच की विषमता पुकार-पुकार कर द्वन्द्व और प्रतियोगिता को प्रोत्साहन दे रही हो, जस राष्ट्र की नीति शोषण पर खड़ी हो, उसके अध्यापक भला क्या करें।
जिन घरों में दाल-रोटी का ठिकाना न हो, पिता मद्यप और माता स्वैरिणी हो, माँ-बाप में मार-पीट और गाली-गलौच मची रहती हो, उसके बच्चों को पालने में ही मानस-विष दे दिया जाता है। तंग गलियों और गंदे घरों में रहने वाले, जो छोटे वय से ही अश्लीलता और अभद्रता में पले हों, सौन्दर्य को जल्दी नहीं समझ पाते। फिर भी अध्यापक परिस्थितियों को दोष देकर बैठा नहीं रह सकता। उसको तो अपना कर्तव्य पालन करना ही है।
33. मद्यप का क्या अर्थ है?

• मनमौजी
• शराबी
• उदंड
• स्वतंत्र

शराबी

34. बच्चों को संस्कारवान बनाने का प्रथम दायित्व किसका है?

• माता-पिता का
• समाज का
• शासन का
• शिक्षक का

शासन का

35. स्वैरिणी का क्या अर्थ है?

• मनमानी करने वाली
• व्यभिचारिणी
• बुरा व्यवहार करने वाली
• सीधी और सरल

व्यभिचारिणी

36. मानस-विष देने का अभिप्राय क्या है?

• जहर पिला देना
• मार डालना
• बुरा व्यवहार करना
• अपराधी बना देना

अपराधी बना देना

37. उपर्युक्त गद्यांश में किसके कर्त्तव्य को मुख्य माना गया है?

• समाज
• राज्य
• अध्यापक
• बालक

समाज

इस पोस्ट में Jawahar Navodaya Vidyalaya Model Question Paper In Hindi Pdf जवाहर नवोदय विद्यालय पिछले साल प्रश्न पत्र 2020 JNVST Old Question Papers PDF, JNVST Previous Paper PDF Class Jawahar Navodaya Vidyalaya Selection Test JNVST Previous Year Question Paper नवोदय विद्यालय पेपर 2020 से संबंधित काफी महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर दिए गए है यह प्रश्न उत्तर फायदेमंद लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और इसके बारे में आप कुछ जानना यह पूछना चाहते हैं तो नीचे कमेंट करके अवश्य पूछे

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!